क्षेत्रीय

जबलपुर लाइव

Posted by khalid on



1 एक निशाना किसी की जिंदगी को किस तरह से बदल सकता है ये शायद मुस्कान से ज्यादा अच्छे से कोई नही जानता।हाल ही जकार्ता में सम्पन्न हुए एशियाड खेल में आर्चरी में सिल्वर मेडल जीतकर जब संस्कारधानी की मुस्कान अपने गृह नगर आई तो संस्कार की तर्ज में शहरवासियों ने उसका स्वागत किया।मुस्कान कल देर रात जबलपुर पहुँची जहा उसकर जमकर स्वागत किया गया।खुली जीप में मुस्कान को पूरे शहर में घुमाया गया।अपनी इस कामयाबी के लिए मुस्कान में अपने लगन-मेहनत और गुरु को धन्यबाद दिया।महज 17 साल की उम्र में आर्चरी की चौपियन बनी मुस्कान को देखकर अब और भी शहर की बेटियां मुस्कान बनना चाहती है।मुस्कान के साथ उसके गृह नगर कोच रिचपाल सिंह भी थे।

2 जबलपुर धनी की कुटिया के पास आस्था परिषर में बस ड्राइवर की बड़ी लापरवाही सामने आई है ,,स्कूली बच्चो से भरी बस को ड्राइवर ने बिजली के खम्बे से टकरा दी जिसके चलते बिजली के तार टूट कर सड़क पर आ गए ,,,,वही दहशत में बच्चे चीखपुकार करने लगे ।।छेत्रिय लोगो ने सभी बच्चो को सकुसल बाहर निकला इस हादसे में कोई घायल नही हुआ बता दे की कई बार छेत्रिय जनो ने बस के ड्राइवर को बताया भी था कि इस सड़क से बस नही निकल पायेगी उसके बाद भी ड्राइवर नही माना रोजाना इस रास्ते से ड्राइवर बच्चो से भरी बस को निकलता था जिससे आज बड़ा हादसा होते होते बच गया

3 डेंगू, चिकनगुनिया, लंगड़ा बुखार और मलेरिया का प्रकोप झेल रहे शहर में अब जेपनीज बी ने हमला बोल दिया है। विदेशो में होने वाली इस बीमारी से हाल में जबलपुर के मदार टेकरी में रहने वाली 42 साल की महिला की जान चली गई है। हालांकि अब तक इस बीमारी की स्वास्थ विभाग ने आधिकारिक तौर पर इसकी पुष्टि नहीं हुई है वही नागपुर मेडिकल ने अपनी इस रिपोर्ट में जेपानीज बी बुखार का जिक्र किया है।पर डेंगू, चिकनगुनिया का शिकार हुए इलाके के पार्षद ताहिर अली की मानें तो नसीमा नाम की महिला की जान जेपनीज बी के चलते हुई है इधर इससे पहले तीन लोगो की जान डेंगू ने ली है

4 अखिल भारतीय विधार्थी परिषद ने आर डी वी वी का घेराव किया वहीँ कुल सचिव को पैसो से भरा बैग सौपने की कोशिश और विश्व विधालय में व्याप्त भ्रष्टाचार ओर बिना पैसे लिए कोई काम न किये जाने का लगाया आरोप साथ ही मांगे पूरी न होने पर दी उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है