क्षेत्रीय

होशंगाबाद - सैकड़ों सवर्ण पहुंचे तहसील, रास्ते हुए जाम

Posted by Divyansh Joshi on



होशंगाबाद जिलेभर में भारत बंद को लेकर गुरुवार को सुबह से सवर्ण और पिछड़ा वर्ग ने जुलूस निकाले। पिपरिया में दोपहर बाद सैकड़ों की संख्या में सवर्ण और पिछड़ा वर्ग के लोग तहसील कार्यालय पहुंचे। एसडीएम आरएस बघेल के लिए काला कानून वापस लेने के लिए ज्ञापन सौंपा। सुबह से बंद के आवाहन के कारण अधिकतर प्रतिष्ठान,स्कूल,कॉलेज,दुकानें, बाजार बंद रहे। पहली बार होटलें भी बंद रही। वहीं रैली निकालकर एट्रोसिटी एक्ट का विरोध जताया गया। बंद के दौरान सिर्फ मेडिकल व पेट्रोल पंप के लिए छूट दी गई। ये दोनों ही गुरुवार को सुबह से खुले रहे। पेट्रोल पंप सिर्फ रैली के दौरान बंद रहे।
बंद के समर्थन में बुधवार को होशंगाबाद के भाजपा नेता भी आ गए थे। वहीं सभी व्यापारियों ने बंद का समर्थन किया है। पिपरिया, इटारसी, माखननगर, सिवनीमालवा, केसला, सेमरीहरिचंद्र, शोभापुर, सोहागपुर, पचमढ़ी सहित पूरे होशंगाबाद जिलेभर में भारत बंद का असर रहा।
पुलिस ने बंद को देखते हुए सुरक्षा के तगड़े इंतजाम, जिलेभर में 400 सुरक्षा जवान तैनात किए गए ।पुलिस-एसपी अरविंद सक्सेना ने बताया कि धारा १४४ नहीं लगाई गई है। बंद के दौरान सामान्य, पिछड़ा व अल्पसंख्यक वर्ग के लोग प्रदर्शन किया। व्यापारी महासंघ ने भी बंद को समर्थन दिया है। बाजार बंद रहें।