राज्य

प्रदेश एक्सप्रेस - प्रदेशस्तरीय सम्मेलन ‘महाकुंभ’ में पीएम मोदी भी शामिल होने वाले है

Posted by Divyansh Joshi on



1
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को जन आशीर्वाद यात्रा और अन्य माध्यमों से खरीफ फसलों बेचने के लिए पंजीयन कराने में आ रही दिक्कतों के कारण सरकार ने शुक्रवार को नियमों में बदलाव कर दिया।अब जमीन का संयुक्त खाता होने पर सभी खातेदारों की पंजीयन केंद्र में मौजूदगी या शपथ पत्र देना जरूरी नहीं होगा। किसी एक सदस्य के आवेदन पर भी पंजीयन हो जाएगा। किसान को खसरा, वन अधिकार पट्टा या राजस्व विभाग का प्रमाणीकरण नहीं मांगा जाएगा।
2
पंडित दीनदयाल उपाध्याय की 102वीं जयंती के मौके पर 25 सितम्बर को भोपाल में होने वाले भाजपा कार्यकर्ताओं के प्रदेशस्तरीय सम्मेलन ‘महाकुंभ’ में पीएम मोदी भी शामिल होने वाले है। वे यही से मप्र का चुनावी शंखनाद करेंगें।इस कुंभ के जरिए मोदी 2018-2019 की सियासी जंग को फतह करने की रणनीति पर फोकस किए हुए है। बताया जा रहा है कि यह अब तक का सबसे बड़ा भाजपा का प्रदेश में होने वाला आयोजन होगा, इसमें 10 लाख कार्यकर्ताओं को जुटाने का लक्ष्य रखा गया है।
3
एक बार फिर पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता बाबूलाल गौर ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और छिंदवाड़ा सांसद कमलनाथ की शान में कसीदे गढ़े है।उन्होंने कहा है कि भोपाल में नर्मदा लाने का श्रेय कमलनाथ को जाता है। उनके पास विजन है। वही उन्होंने कहा कि छिंदवाड़ा विकास का मॉडल है। वही गौर के इस बयान के बाद भाजपा में बवाल मच गया है। पूर्व महापौर और उनकी बहू कृष्णा गौर ने इसे गलत बताया है। उन्होंने कहा है कि कमलनाथ पर सिख नरसंहार का मामला दर्ज है। ऐसे नेता की तारीफ करने को वे गलत मानती हैं।
4
शुक्रवार को मध्य प्रदेश कांग्रेस चुनाव समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया और कांग्रेस विधायक जयवर्धन सिंह के एक साथ मैराथन दौड़ में भाग लिया।दोनों ने करीब पांच किमी की दौड़ लगाई और लोगों को फिट रहने की सलाह दी।इस बात की जानकारी खुद सिंधिया ने अपने ट्वीटर के माध्यम से दी है। सिंधिया ने ट्वीटर पर लिखा है कि आरोन में कांग्रेस के युवा विधायक जयवर्धन सिंह के साथ मैराथन के दौरान 5 किलोमीटर दौड़ने में बहुत मजा आया।
5
देश के प्रतिष्ठित कृषि कर्मण अवॉर्ड के लिए मध्यप्रदेश ने दावा ठोंक दिया है। लगातार छठवीं बार अवॉर्ड हासिल करने के लिए 12 सितंबर को नई दिल्ली में कृषि विभाग के अधिकारी प्रस्तुतिकरण देंगे। इस बार दावा समग्र उत्पादन की श्रेणी में किया गया है।प्रदेश में लगातार कृषि क्षेत्र में विकास हो रहा है। बीते पांच साल से लगातार कृषि विकास दर 18 फीसदी बनी हुई है, जो देश में सर्वाधिक है।