व्यापार

व्यापार की खबरे - संकट में फंसी जेट एयरवेज के लिए समस्या बढ़ती जा रही है

Posted by Divyansh Joshi on



1
संकट में फंसी जेट एयरवेज के लिए समस्या बढ़ती जा रही है. सार्वजनिक एवं निजी क्षेत्र के बैंकों से 11,000 करोड़ रुपए के कर्ज में चूक होने के जोखिम का समय पर खुलासा नहीं करने को लेकर जेट एयरवेज और कुछ क्रेडिट रेटिंग एजेंसियां नियामकीय निगरानी के घेरे में आ गई हैं.
2
देश के बैंकिंग क्षेत्र का परिदृश्य उसके फंसे कर्ज के मुकाबले उसके कुल पूंजी अनुपात और कमजोर वित्तीय प्रदर्शन में सुधार आने तक नकारात्मक दायरे में बना रह सकता है. वैश्विक रेटिंग एजेंसी फिच रेटिंग ने यह बात कही है. रेटिंग एजेंसी ने कहा है कि 151 अरब डॉलर का फंसा कर्ज बैंकिंग क्षेत्र के कमजोर आय आधार के लिये जोखिम का कारण बना रहेगा.
3
देश का विदेशी मुद्रा भंडार श्संतोषजनकश् दायरे में है और इसमें यदि 5 से 8 प्रतिशत की गिरावट भी आती है तो स्थिति में कोई खतरा नहीं होगा. वैश्विक वित्तीय सेवा कंपनी के अनुसार चुनौतीपूर्ण वैश्विक माहौल ने आरबीआई को रुपये की विनिमय दर में गिरावट को थामने के लिये मजबूर किया है. इसके कारण मुद्रा भंडार कम हुआ है.
4
रिलायंस कम्युनिकेशंस ने सोमवार को कहा कि उसने दूरसंचार विभाग के साथ 774 करोड़ रुपये की बैंक गारंटी दूरसंचार न्यायाधिकरण द्वारा तय समयसीमा से काफी पहले ही बहाल कर दी है.
5
देश की सबसे बड़ी खुदरा तेल कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (आईओसीएल) अपने पारंपरिक तेल शोधन और विपणन कार्यक्रम की तरह गैस कारोबार पर बड़ा दांव लगाने की तैयारी में है. इंडियन ऑयल की शहरी गैस वितरण परियोजनाओं में अगले 5 से 8 साल में 20 हजार करोड़ रुपये निवेश की योजना है. कंपनी के चेयरमैन संजीव सिंह ने सोमवार को यह बात कही.